mahendras

Now Subscribe for Free videos

Subscribe Now

Thursday, 3 May 2018

Spotlight: Cabinet Approves Doubling Of Investment Limit For Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana (PMVVY)

Mahendra Guru : Online Videos For Govt. Exams
Spotlight: Cabinet Approves Doubling Of Investment Limit For Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana (PMVVY)

Dear Aspirants,
We all know that current affairs is an important part of every examination, so looking at the importance of current affairs, we are providing you the latest updates of the day through our post "Spotlight". We not only provide you the latest updates but also the static facts related to the particular news.

Cabinet approves Doubling of Investment Limit for Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana (PMVVY)
The Union Cabinet has given its approval for extending the investment limit from Rs 7.5 lakhs to Rs 15 lakhs as well as extension of time limits for subscription from 4thMay 2018 to 31stMarch, 2020 under the Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana (PMVVY) as part of Government's commitment for financial inclusion and social security.
Further, as a boost to the Social Security initiatives for senior citizens, the investment limit of Rs 7.5 lakh per family in the existing scheme is enhanced to Rs 15 lakh per senior citizen in the modified PMVVY, thereby providing a larger social security cover to the Senior citizens. It will enable upto Rs.10000 Pension per month for Senior Citizens.

कैबिनेट ने प्रधानमंत्री वय वंदना योजना (पीएमवीवीवाई) के तहत निवेश सीमा दोगुना करने को मंजूरी दी

केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने वित्तीय समावेश और सामाजिक सुरक्षा के प्रति सरकारी प्रतिबद्धता के अंतर्गत प्रधानमंत्री वय वंदना योजना (पीएमवीवीवाई) के तहत निवेश सीमा को 7.5 लाख रुपये से दोगुना कर 15 लाख रुपये करने के साथ-साथ इसकी सदस्यता की समय सीमा को 4 मई, 2018 से बढ़ाकर 31 मार्च, 2020 करने की भी मंजूरी दे दी है।

इसके अलावा, वरिष्ठ नागरिकों के लिए सामाजिक सुरक्षा पहलों को बढ़ावा देने के उद्देश्य से मौजूदा योजना में प्रति परिवार 7.5 लाख रुपये की निवेश सीमा को बढ़ाकर संशोधित पीएमवीवीवाई में प्रति वरिष्ठ नागरिक 15 लाख रुपये कर दिया गया है। इस तरह वरिष्ठ नागरिकों को व्यापक सामाजिक सुरक्षा कवर सुलभ करा दिया गया है। इससे वरिष्ठ नागरिकों को प्रति माह 10,000 रुपये तक पेंशन मिल सकेगी।

India ranked 11th in FDI Confidence Index 2018

In global consultants AT Kearney’s Foreign Direct Investment (FDI) Confidence Index 2018, India’s ranking fell three places to 11th spot. Last year, India was ranked eighth. Its position was pushed out of the top 10 for the first time since 2015. Switzerland and Italy entered the top 10 for the first time in more than a decade, edging out India and Singapore.

This is an annual survey which tracks the impact of likely political, economic and regulatory changes on the FDI preferences of chief executive officers and chief financial officers.


एफडीआई कॉन्फिडेंस इंडेक्स 2018 में भारत 11 वां स्थान पर रहा

ग्लोबल कंसल्टेंसी फर्म एटी किर्नी के विदेशी प्रत्यक्ष निवेश (एफडीआई) कॉन्फिडेंस इंडेक्स 2018 में, भारत की रैंकिंग तीन स्थान गिरकर 11 वें स्थान पर रही। पिछले साल, भारत आठवें स्थान पर था। वर्ष 2015 के बाद भारत पहली बार शीर्ष 10 से बाहर हो गया है। स्विट्ज़रलैंड और इटली ने एक दशक से भी ज्यादा समय के बाद पहली बार शीर्ष 10 में प्रवेश किया है और भारत और सिंगापुर को बाहर कर दिया है।

यह एक वार्षिक सर्वेक्षण है जो मुख्य कार्यकारी अधिकारियों और मुख्य वित्तीय अधिकारियों की एफडीआई वरीयताओं पर संभावित राजनीतिक, आर्थिक और नियामक परिवर्तनों के प्रभाव को ट्रैक करता है।

India is Now Top Fifth Defence Spender

According to the Stockholm International Peace Research Institute's report, India is now the world’s five biggest military spenders, New Delhi’s defence spending rose by 5.5 percent to $63.9 billion in 2017 and has now passed France.

India was in the fifth spot, after the US, China, Saudi Arabia and Russia, and they together accounted for 60% of global military spending. 


भारत पांच सबसे बड़ा सैन्य खर्च करने वाला देश बना 

स्टॉकहोम इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट की रिपोर्ट के अनुसार, भारत पांच सबसे बड़ा सैन्य खर्च करने वाला देश बन गया है। 2017 में नई दिल्ली का रक्षा खर्च 5.5 प्रतिशत बढ़कर, 63.9 अरब डॉलर हो गया और इसके साथ ही भारत ने फ्रांस को पीछे छोड़ दिया है।

अमेरिका, चीन, सऊदी अरब और रूस के बाद भारत पांचवें स्थान पर है, और इन सभी देशों की कुल वैश्विक सैन्य खर्च में 60% की हिस्सेदारी है।


Appointment :  Radhakrishnan Nair

Radhakrishnan Nair has been appointed to ICICI Bank’s board as Additional (Independent) Director.

His appointment will be for a period of five years.

नियुक्ति :  राधाकृष्णन नायर  

राधाकृष्णन नायर को आईसीआईसीआई बैंक के बोर्ड में अतिरिक्त (स्वतंत्र) निदेशक के रूप में नियुक्त किया गया है।

उनकी नियुक्ति पांच साल की अवधि के लिए होगी।

Read more at enews.mahendras.org

Copyright © 2017-18 www.mahendraguru.com All Right Reserved Powered by Mahendra Educational Pvt . Ltd.