mahendras

Now Subscribe for Free videos

Subscribe Now

Thursday, 22 February 2018

Spotlight : Christian Evangelist, Billy Graham Passed Away

mahendra Guru
Spotlight : Christian Evangelist, Billy Graham Passed Away
Christian Evangelist, Billy Graham Passed Away
  • Billy Graham, who long suffered from cancer, pneumonia and other ailments, died at his home in North Carolina. He was 99.
  • Billy Graham was known as America's Pastor for his work with presidents.
  • He was one of the most widely heard Christian evangelists in history.
  • Graham counselled presidents and preached to millions across the world from his native North Carolina to communist North Korea during his 70 years on the pulpit. 
  • Over his lifetime, Graham reached more than 200 million through his pioneering use of prime-time telecasts, network radio, daily newspaper columns, evangelistic feature films and globe-girdling satellite TV hookups. Graham's message was not complex or unique, yet he preached with a conviction that won over audiences worldwide.
  • His message and service to presidents, also including Dwight Eisenhower to George W. Bush, earned him the nickname America's Pastor.
ईसाई इंजीलवादी, बिली ग्राहम का निधन हो गया।
  • बिली ग्राहम, जो लंबे समय से कैंसर, निमोनिया और अन्य बीमारियों से पीड़ित थे, उनका उत्तरी केरोलिना में अपने घर में निधन हो गया। वह 99 वर्ष के थें।
  • बिली ग्राहम राष्ट्रपति के साथ अपने काम के लिए अमेरिका के पास्टर के रूप में जाना जाते थें।
  • वह इतिहास में सबसे अधिक व्यापक रूप से सुने जाने वाले ईसाई प्रचारक में से एक थें।
  • ग्राहम ने राष्ट्रपति को सलाह दी और 70 साल के दौरान दुनिया भर में अपने मूल उत्तर कैरोलिना से उत्तर कोरिया के कम्युनिस्टों तक लाखों लोगों के लिए प्रचार किया।
  • अपने जीवनकाल के दौरान, ग्राहम प्राइम टाइम टेलिटेक्शंस, नेटवर्क रेडियो, दैनिक अखबार कॉलम, इंजीलस्टाइल फीचर फिल्मों और ग्लोब-ग्रिडलिंग उपग्रह टीवी के अपने अग्रणी उपयोग के माध्यम से 200 मिलियन से अधिक तक पहुंचे। 
  • ग्राहम का संदेश जटिल या अनूठा नहीं था, फिर भी उन्होंने एक विश्वास के साथ प्रचार किया जो विश्वभर में दर्शकों से जीता।
  • उनके संदेश और राष्ट्रपति के लिए सेवा, जिसमें ड्वेट ईसेनहॉवगे से जॉर्ज डब्लू बुश को भी शामिल किया गया, उन्हें अमेरिका का पादरी उपनाम मिला।\

Copyright © 2017-18 www.mahendraguru.com All Right Reserved Powered by Mahendra Educational Pvt . Ltd.