mahendras

Now Subscribe for Free videos

Subscribe Now

Wednesday, 10 January 2018

Spotlight : World Bank Says India Has Huge Potential, Projects 7.3% Growth In 2018

mahendra Guru


World Bank Says India Has Huge Potential, Projects 7.3% Growth In 2018

1. The World Bank has projected India's growth rate to 7.3 percent in 2018.
2. The World Bank has projected India's growth rate to 7.5 for the next two years.
3. India is estimated to have grown at 6.7 percent in 2017.
According to the 2018 Global Economics Prospect released by the World Bank on 10 January 2018.

Other Important Factors:-

-India has enormous potential with respect to secondary education completion rate.
-India has a favourable demographic profile,is rarely seen in other economies.
-Female labour force participation still remains low relative to other emerging market economies.-
-Reducing youth unemployment is critical.
-India's growth potential would be around 7 per cent for the next 10 years.
-GST is a major turning point.
-Banking recapitalisation programme is important.
-The latest World Bank growth estimate for 2017 is 0.5 per cent, less than the previous projection, and 0.2 per cent less in the next two years.
-India is going to be the fastest growing large emerging market.
-The potential growth rate of the Indian economy is very healthy to 7 per cent.
-India is estimated to grow 6.7 per cent in fiscal year 2017-18 (7.1 per cent of the previous fiscal year).

Competitor View-

-In 2017, China grew at 6.8 per cent, 0.1 per cent more than that of India
-In 2018, China's growth rate is projected at 6.4 per cent.
-In the next two years, China's growth rate will drop marginally to 6.3 and 6.2 per cent, respectively.

विश्व बैंक का कहना कि भारत में बहुत बड़ी क्षमता है, 2018 में  7.3% वृद्धि का अनुमान.

1. विश्व बैंक ने 2018 में भारत की विकास दर को 7.3 प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया है।
2. विश्व बैंक ने अगले दो सालों के लिए भारत की विकास दर 7.5 करने का अनुमान लगाया है।
3. 2017 में की विकास दर 6.7 प्रतिशत रहने का अनुमान  है।
10 जनवरी 2018 को विश्व बैंक द्वारा जारी 2018 ग्लोबल इकोनॉमिक्स प्रॉस्पेक्ट के अनुसार.

अन्य महत्वपूर्ण कारक: -

- माध्यमिक शिक्षा पूर्णता दर के संबंध में भारत में भारी क्षमता है।
- भारत का अनुकूल जनसांख्यिकीय प्रोफाइल, शायद ही कभी अन्य अर्थव्यवस्थाओं में देखा जाता है।
- महिला श्रम शक्ति की भागीदारी अभी भी अन्य उभरती हुई बाज़ार अर्थव्यवस्थाओं के मुकाबले कम है।
- युवा बेरोजगारी को कम करना महत्वपूर्ण है।
- अगले 10 वर्षों में भारत की विकास क्षमता लगभग 7 प्रतिशत होगी।
- जीएसटी एक प्रमुख कदम है
- बैंकिंग पुनर्पूंजीकरण कार्यक्रम महत्वपूर्ण है।
- 2017 के लिए नवीनतम विश्व बैंक के विकास का अनुमान , पिछले प्रोजेक्शन की तुलना में 0.5 प्रतिशत कम है, और अगले दो वर्षों में 0.2 प्रतिशत कम है।
- भारत सबसे तेजी से बढ़ते बड़ा उभरता बाजार होने जा रहा है।
- भारतीय अर्थव्यवस्था की संभावित वृद्धि दर बहुत स्वस्थ है, जो कि 7 प्रतिशत है।
- वित्त वर्ष 2017-18 में भारत की विकास दर 6.7 प्रतिशत से बढ़ने का अनुमान है। (पिछले वित्तीय वर्ष 7.1 प्रतिशत था)।

प्रतियोगी पर नज़र-

- 2017 में, चीन की वृद्धि दर 6.8 प्रतिशत थी, जो भारत की तुलना में 0.1 प्रतिशत अधिक थी
- 2018 में, चीन की विकास दर 6.4 प्रतिशत पर अनुमानित है।
- अगले दो वर्षों में, चीन की विकास दर मामूली घटकर क्रमशः 6.3 और 6.2 प्रतिशत रह जाएगी।

Read More at : https://enews.mahendras.org/

Copyright © 2017-18 www.mahendraguru.com All Right Reserved Powered by Mahendra Educational Pvt . Ltd.