mahendras

Now Subscribe for Free videos

Subscribe Now

Friday, 3 March 2017

बैंक परीक्षा के लिये कैलकुलेशन स्पीड बढ़ाने के 7 प्रभावी तरीके

Mahendra Guru : Online Videos For Govt. Exams

Related image


हैलो दोस्तों, उम्मीद है कि आप अच्छे होंगे और आने वाले बैंक परीक्षा की सही तरीके से तैयारी कर रहे होंगे।  जैसा कि हम सभी जानते हैं कि बैंकिंग क्षेत्र में एक विशिष्ट नौकरी में संख्याओं और गणना (कैलकुलेशन) का बहुत महत्व है। इसलिए, सभी अन्य वर्गों की तुलना में, मात्रात्मक योग्यता (क्वांटीटेटिव एप्टीट्यूट) (क्यूए) सेक्शन का विशेष महत्व है l अन्य वर्गों के अपेक्षा क्वान्टीटेटिव एप्टीटयूट के सवालों का कट ऑफ हमेशा अधिक होता हैl

उदाहरण के लिए, 2016 आईबीपीएस पीओ की मुख्य परीक्षा में सामान्य श्रेणी के लिए क्वांटीटेटिव एप्टीट्यूट सेक्शन की कट ऑफ 12.50 अंकों की थी। यह रीजनिंग सेक्शन के लिए निर्धारित कट ऑफ से 5.25 अंक से अधिक थी, जिसमें क्यूए सेक्शन के समान ही अधिकतम 50 अंक निर्धारित  थे।

कभी-कभी आप महसूस करते होंगे कि पहली पंक्ति में आपके सामने बैठा हुआ व्यक्ति परीक्षा कक्ष में आपकी गणना करने से पहले ही सवालों के जवाब दे देता है। आपको बता दें कि वह इसलिए इतनी जल्दी गणना कर लेता है क्योंकि इसके लिए उसने सही तरीके से होम वर्क तब से किया है जब वह साइंस या कला की गणना में मास्टर्स हासिल कर रहा थी/रही थी।  इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपकी गणना (कैलकुलेशन) की गति में सुधार करने के लिए कुछ सुझाव दे रहे हैं, जो इस प्रकार हैं:

(I)   आलस्य को दूर करें

एक रॉकेट सफलतापूर्वक लॉन्च करने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कार्य होता है इसे गुरुत्वाकर्षण बल के चंगुल से आजाद करना या धक्का देना। आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि एक रॉकेट में भरे हुए ईंधन का लगभग 80% हिस्सा इसकी उड़ान की शुरूआत में ही खत्म हो जाता है। इसी तरह, यदि आप अपने कैल्कुलेशन  की गति में सुधार करना चाहते हैं, तो आपको खुद स्वयं को नकारात्मकता के चुंगल से आजाद कराना होगा और एक संकल्प लेना होगा कि इसके लिए 'जरूरी चीजें' करनी हैं। शुरूआती चरण में यह एक मुश्किल काम हो सकता है, लेकिन आत्म प्रेरणा (सेल्फ मोटिवेशन) के साथ इससे चीजों में निश्चित तौर पर सुधार हो सकता है।

(II) 'शुरुआत' के साथ शुरू करें

एक बार जब आप एक शुरुआत करने का फैसला ले लेते हैं तो आपके दिमाग में अगला सवाल आता है कि प्रक्रिया की शुरूआत  कैसे और कहाँ से की जाए?  यदि आप एक नई भाषा सीखने की कोशिश कर रहे हैं, तो इसके लिए सबसे अच्छी बात यह होगी कि आप अक्षर (अल्फाबेट) से शुरू करें। इसी तरह आप गणित कैलकुलेशन (गणना) की गति में सुधार कर सकते हैं, इसके लिए आपको गणित के चार बुनियादी नियमों के साथ शरुआत करनी होगी,जो इस प्रकार हैं -

1) जोड़  (एडीशन)
2) घटाव
3) गुणा
4) भाग

आप इसे एक तुच्छ तरीका कह सकते हैं और यह मान सकते हैं कि आप जैसे वयस्कों के लिए यह एक प्रासंगिक कदम नहीं हो सकता है। लेकिन इस बात पर ध्यान देना चाहिए कि हर गणितीय समाधान में इन चार बुनियादी गणितीय सिद्धांतो का एक संयोजन होता है और कैलकुलेशन की गति, इसकी गति पर ही निर्भर करती है।

(III) गुणन सारणी को कंठस्थ कर लें

बैंक परीक्षा के उम्मीदवार को 20 तक पहाड़ा कंठस्थ होना चाहिए। इसमें कोई बहाना नहीं है। इसी तरह, आपको 1 से 25 वर्ग मूल्यों (स्क्वायर वैल्यूज) तथा 1 से 20 तक के स्क्वायर रूट को याद रखना बहुत जरूरी है। ये वैल्यूज आपको निकटतम अनुमानों तक पहुंचाने में मदद करते हैं और परीक्षा हॉल में वैकल्पिक प्रश्नों का चुनाव करते समय मदद करते हैं।

इन वैल्यूज को कंठस्थ याद करने का सबसे बेहतर तरीका यह है कि इन्हें नोट कर लें और प्रतिदिन कम से कम तीन बार इन्हें लिखें। इसके अलावा, आप कागज के एक टुकड़े पर आरोही और अवरोही क्रम में गुणन सारणी (मल्टीप्लीकेशन टेबल्स) को लिखकर दीवार पर लगा सकते हैं। सुबह उठने के बाद और रात से सोने से पहले कम से कम 5 मिनट तक उन्हें पढ़ने की आदत बना लें। इस तरह के अभ्यास वैज्ञानिक रूप से साबित हो चुके हैं और यह उन लोगों के लिए विशेष लाभदायक है जिनकी याद करने की क्षमता थोड़ी कम है।

इन अभ्यासों को और अधिक रोचक और लाभप्रद बनाने के लिए जितना संभव हो सके उसके लिए वैल्यूज का एक पैटर्न प्राप्त कर लें।

(IV) अपने मानसिक गणित कौशल (स्किल) को तेज करें

गणना (कैलकुलेशन) की गति में सुधार करने के लिए कागज पर अभ्यास करना ही पर्याप्त नहीं है। आपको जहां तक संभव हो मानसिक चित्रण कौशल (विजुअलाइजेशन स्किल) का उपयोग करना चाहिए और अवरोही क्रम में गणना करते समय कलम और कागज का उपयोग किए बिना अपने दिमाग का उपयोग करने में अभ्यस्त रहना चाहिए।

अपने मानसिक गणित कौशल को बढ़ावा देने के क्रम में, संख्याओं का रेंडमली चयन करें और बेसिक ऑपरेशन (सामान्य कार्य) का ध्यान रखें। आप इस तरह के ऑपरेशन अपने दैनिक जीवन में कर सकते हैं। उदाहरण के लिए, जब आप क्रिकेट देखते हैं, या एक अखबार में प्रकाशित कंपनी की बैलेंस शीट के आँकड़े पढ़ते है, तो आप 'नंबरों के साथ खेलते' हैं।

 (V) उचित तकनीक जानें

आपका वर्तमान आपके द्वारा अतीत में किए गए अभ्यास पर निर्भर रहता है। इसी तरह, अगर आप निश्चित दिए गए समय में मात्रात्मक योग्यता अनुभाग (क्वेटेटिव एप्टीट्यूट सेक्शन) को खत्म करना चाहते हैं तो आपको उचित तकनीक का पालन करना होगा। उम्मीदवारों को अपनी कैलकुलेशन की गति में सुधार करने तथा समय बचाने के लिए वैदिक गणित द्वारा प्रदत्त की गयी ट्रिक्स और शॉर्ट कट का प्रयोग करना सीखना होगा।

(VI) एक अनुशासित कार्यक्रम बनाएं

किसी भी उम्मीदवार की सफलता के पीछे अनुशासन सबसे जरूरी कारक होता है। इस चीज पर ध्यान देना जरूरी है कि किस तरह से हम इष्टतम गति से सीख सकते हैं। अंगूठे के नियम के अनुसार, प्रात:काल के घंटे कैलकुलेशन की गति में सुधार करने और क्यूए सेक्शन में महारत हासिल करने के लिए सबसे आदर्श होते हैं।

(VII) स्वयं को चुनौती देना सीखें

कम समय की अवधि में परिणाम प्राप्त करने के लिए आपको स्वंय को चुनौती देने की कला सीखनी चाहिए। इसी तरह, जिन सवालों का आप अभ्यास कर रहे हैं उनके स्तर में सुधार करना चाहिए। हालांकि, यह सुनिश्चित कर लें कि अभ्यास का अगला स्तर कम कठिन और हल्का हो। इसके लिए आप अपने मोबाइल फोन या इंटरनेट की सहायता भी ले सकते हैं जो आपकी कैलकुलेशन (गणना) की गति के आधार पर विभिन्न अभ्यास मॉड्यूल में आप इनकी  मदद ले सकते हैं।

उपरोक्त वर्णन के आधार पर सबसे महत्वपूर्ण तत्व यह है कि अभ्यास ही आपकी सफलता को निर्धारित करता है। केवल सही मात्रा में अभ्यास करने के साथ ही आप अपनी कैलकुलेशन की गति में वास्तविक सुधार कर सकते हैं। इसमें कोई शक नहीं है आपकी सफलता के रास्तें में कई तरह की आंतरिक या बाहरी बाधाएं भी आ सकती हैं। लेकिन एक निर्धारित समय की अवधि में उसकी दृढ़ता ही भीड़ से एक सफल उम्मीदवार को अलग करती है।


महेंद्रास की तरफ से सभी को शुभकामनाएं !!!

0 comments:

Post a Comment

MAHENDRA GURU

Copyright © 2017-18 www.mahendraguru.com All Right Reserved Powered by Mahendra Educational Pvt . Ltd.